Jhansi News: दुनिया में इंसानियत से बड़ा शायद ही कोई रिश्ता है, रोते हुए को जो हंसा दे, वह इंसां नहीं फरिश्ता है…कुछ ऐसे ही लोग झांसी में कड़कड़ाती ठंड में गरीबों के लिए फरिश्ता बनकर आए और उन्हें कंबल दान कर न केवल ठंड से राहत दिलाई बल्कि उनके चेहरे पर मुस्कान भी बिखेर दी.

सर्द मौसम में ठिठुरन से बचने के लिए जरुरतमंदों को गर्म इनर और ऊनी कपड़े कंबल मिल जाए, इससे बडी और क्या सौगात हो सकती है. उम्मीद रोशनी की समाजसेवी संस्था के तत्वावधान में जरुरतमंदों को गर्म कपड़े कंबल वितरित किए गए, जिससे उनके चेहरे खिल गए. कुछ ने तो तुरंत ही गर्म कपड़े पहनकर आनंद की अनुभूति की.

ummeed roshni ki 2

ये वो गरीब लोग हैं, जो पिछले कई दिनों से बिना कंबल के ठंड में ठिठुर रहे थे. संस्था के अध्यक्ष पुष्पेंद्र यादव सहित अन्य सदस्य जैसे ही हाथों में गर्म इनर, कंबल लेकर चित्र चौराहा पहुंचे, वहां जरुरतमंद लोग ठंड से ठिठुरते लोग नज़र आए.

ummeed roshni ki 3

संस्था ने जैसे ही कंबल वितरित करना शुरू किया तो देखते ही देखते बच्चे, बड़े-बुजुर्ग महिलाएं सभी इनर-कंबल लेने के लिए एकत्रित हो गए.

ummeed roshni ki 4

संस्था द्वारा सभी को उनकी नाप के अनुसार, बच्चों को गर्म इनर कंबल आदि वितरित किए. जैसे-जैसे जरुरतमंदों को सर्द रात में गर्म कपड़े कंबल मिल रहे थे, उनके चेहरे खिल से नज़र आ रहे थे.

ummeed roshni ki 5

सुरेंद्र सिंह खाती ने कहा कि कुछ जरुरतमंद लोग ऐसे हैं, जो रात-दिन मेहनत मज़दूरी करने के बाद भी दो वक्त की रोटी नहीं कमा पाते हैं तो वे गर्म कपड़े कंबल कैसे खरीदेंगे? ऐसे में उनके पास ठंड में ठिठुरने के अलावा और कोई चारा नहीं रहता है. इस कारण संस्था द्वारा अभियान की शुरूआत की गई है.

ummeed roshni ki 6

इस पुनीत कार्य में संस्था के सुरेंद्र खाती, संदीप कंचन, राजेश शर्मा, राजेंद्र राय, कुशल श्रीवास्तव, आबिद खान, सुमेर कोष्ठा, अनिल कुमार, राजबीर सिंह, अस्मित, दीपक राय, पुष्पेंद्र यादव आदि साथी मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here