Get Relief from Karmic Sins: पाप-पुण्य इंसान की जिंदगी का हिस्सा होते हैं. कहते हैं कि इंसान जो कर्म करता है, उसके अनुसार ही उसकी जिंदगी में
सुख-दुख, सफलता-असफलताएं आती हैं. कई बार लोग अच्छे कर्मों के बावजूद कभी खुश नहीं रह पाते हैं. उनकी जिंदगी में एक से बढ़कर एक संकट आते ही रहते हैं. ऐसे में लोग यह समझ नहीं पाते हैं कि जब वह इतने सत्कर्म करते हैं, किसी का बुरा नहीं करते हैं, फिर उनकी जिंदगी में इतना दुख क्यों है? तो बता दें कि यह उनके पूर्व जन्म के बुरे कर्मों का असर होता है, जो कि उन्हें वर्तमान में भोगना पड़ता है.

कई बार इंसान सब कुछ अच्छा करके भी हमेशा दुखी रहता है तो इसकी वजह उसके इस जन्म के नहीं बल्कि पूर्व जन्म के बुरे कर्म और पाप होते हैं. ऐसे में अगर आप भी किसी अनजान दुख या फिर कष्ट से गुजर रहे हैं तो आपको अपने पूर्व जन्म के बुरे कर्मों और पाप से मुक्ति के उपाय जरूर करने चाहिए. आज हम आपको बताएंगे कि पिछले जन्म के बुरे कर्मों और पापों से मुक्ति पाने के लिए एक इंसान को क्या-क्या करना चाहिए?

इन फायदों के लिए तकिए के नीचे रखकर सोएं कैंची, अगले दिन से पलटेगी किस्मत

हिंदू धर्म में पूर्व जन्म के बुरे कर्मों से मुक्ति के कई उपाय बताए गए हैं-

हवन
अगर आप पिछले जन्म के बुरे पापोन और कर्मों से मुक्ति पाना चाहते हैं तो आपको अपने घर में आए दिन हवन अवश्य रखवाने चाहिए और उन्हें ईश्वर को समर्पित करना चाहिए. अगर आप हर दिन हवन करवाने में सक्षम नहीं है तो एकादशी, पूर्णिमा या त्योहार के दिनों में हवन जरूर करवाएं.

भगवत गीता पाठ
पिछले जन्म के पाप और बुरे कर्मों से मुक्ति पाने के लिए लोगों को भगवत गीता जरूर पढ़नी चाहिए. हिंदू धर्म में माना गया है कि भागवत गीता में लिखी बातों को पढ़ने और अपनाने से पिछले जीवन के कर्मों की शुद्धि शुरू हो जाती है.

यहां हुए थे प्रेमानंद महाराज को श्री कृष्ण के दर्शन!

गायत्री मंत्र जाप
गायत्री मंत्र बहुत ही ज्यादा शक्तिशाली मंत्र माना गया है और हिंदू धर्म में इसकी काफी महत्ता होती है. माना जाता है कि जो लोग हर दिन 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करते हैं, उन्हें पिछले जन्म के पापों और बुरे कर्मों से छुटकारा मिलता है.

हरिद्वार में गंगा स्नान
अगर आपको लगता है कि आपके पिछले जन्म के बुरे कर्म आपका पीछा नहीं छोड़ रहे हैं और आप दुखी रहते हैं तो आपको हरिद्वार जा करके गंगा नदी के पवित्र जल में स्नान करना चाहिए. मान्यता है कि हरिद्वार में गंगा नदी में स्नान करने मात्र से इंसान के सभी बुरे पाप और कर्म धुल जाते हैं.

द्रौपदी को किससे मिला था 5 पतियों का श्राप? कैसे बनी पांडवों की इकलौती पत्नी

राम नाम जाप
हिंदू धर्म में राम नाम को काफी शक्तिशाली बताया गया है. यह इतना अधिक चमत्कारी होता है कि अगर कोई श्रद्धा के साथ प्रभु श्री राम के नाम का जाप करता है और क्षमा याचना मांगता है तो भगवान उसके पिछले पापों और बुरे कर्मों को साफ कर देते हैं. इसके साथ ही उसे वर्तमान में सुख समृद्धि का आशीर्वाद भी देते हैं.

(Disclaimer: ऊपर दी गई जानकारियां धार्मिक मान्यताओं-परंपराओं के अनुसार हैं. Readmeloud इनकी पुष्टि नहीं करता है.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here